छह साल पुराना एनजीओ है WESTT

0
211

(EU) प्रतिनिधिमंडल के कश्मीर दौरे को लेकर यूरोप के एक गैर सरकारी संगठन (NGO) का  नाम सुर्खियों में है. कथित तौर पर वूमेन’स इकोनॉमिक एंड सोशल थिंक टैंक (WESTT) नाम के NGO ने इस अनौपचारिक दौरे के लिए इंतजाम किए.कांग्रेस प्रवक्ता मनीष तिवारी ने मंगलवार सुबह गैर आधिकारिक  (EU) प्रतिनिधिमंडल और एनजीओ को लेकर सवाल खड़े किए.तिवारी ने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा- “ये EU सांसद जो जम्मू और कश्मीर का दौरा कर रहे हैं- उनके परिचय काफी दिलचस्प हैं और कौन इस रहस्यमयी एनजीओ WESTT को संचालित करता है, जो कि उनके दौरे और मेजबानी को फंडिंग कर रहा है. कोई अंदाज?”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here