डॉ जाकिर नाइक की बढ़ी मुश्किलें अब कानूनी दांव-पेच पर उतरें

0
91
Zakir Naik

डॉ जाकिर नाइक मलेशिया में दिक्कतें बढ़ने के बाद अब कानूनी दांव पेच की आड़ ले रहें है. बता दें कि मलेशिया के प्रधानमंत्री महातिर मुहम्मद तीन दिन पहले ये बयान दे चुके हैं कि अगर यह साबित हो गया कि नाइक की गतिविधियां मलेशिया के लिए नुकसानदेह हैं तो उसका स्थायी निवासी (परमानेंट रेज़िडेंट) दर्जा वापस लिया जा सकता है. मलेशियाई पुलिस नाइक के मलेशिया के अल्पसंख्यकों के खिलाफ दिए बयान की जांच कर रही है.मुताबिक नाइक ने एक लॉ फर्म के जरिए पेनांग के उपमुख्यमंत्री (2) पी रामासामी, बगान डलाम असेंबली के सदस्य सतीस मुनिआंदी, पूर्व राजदूत दातुक डेनिस इगनेटियस और कलांग के सांसद चार्ल्स सेंटियागो के खिलाफ सोमवार को नोटिस भेजा. इस नोटिस में कहा गया है कि ये चारों लोग समुचित मुआवजे के साथ माफ़ी मांगे अन्यथा दो दिन में अवमानना का केस झेलने के लिए तैयार रहें.     ये नोटिस लॉ फर्म अकबेरदीन एंड़ कंपनी की ओर से भेजे गए हैं. इससे पहले नाइक ने मानव संसाधन मंत्री एम कुलासेगरन और अन्य चार के ख़िलाफ़ भी बीते शुक्रवार को पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराई थी. नाइक ने पुलिस में दर्ज कराई रिपोर्ट में कहा कि इन पांचों ने उसके 8 अगस्त को दिए बयान को तोड़ मरोड़ कर पेश किया.नाइक ने रामासामी, मुनिआंदी, इगनेटियस और सेंटियागो को लॉ कंपनी के जरिए नोटिस भेजे हैं उसमें उनके कुछ लेखों और प्रेस रिलीज का हवाला दिया गया है. नाइक के मुताबिक इऩ लेखों और प्रेस रिलीज से उसकी अवमानना हुई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here